कारगिल दिवस: कुछ याद उन्हें भी करलो जो लौट के घर न आए

कारगिल दिवस: कुछ याद उन्हें भी करलो जो लौट के घर न आए

कारगिल दिवस: कुछ याद उन्हें भी करलो जो लौट के घर न आए


हेलो दोस्तों स्वागत है आप सभी का आपके अपने चैनल सुपर नेटवर्क में, दोस्तों आज की न्यूज़ में हम बात करेंगे सिर्फ कारगिल योद्ध के बारे में दोस्तों आपको पहले बता दू की कारगिल युद्ध 26 जुलाई को भारतीय सेना को एक बहुत बड़ी आजादी मिली थी। दोस्तों पाकिस्तानी सेना ने जबरदस्ती भारतीय जगहों को कब्ज़ा ज़माने को थाना था लेकिन भारतीय जवानों ने किसी एक की भी बात न सुनी और कारगिल युद्ध में अपनी जीत हासिल की है।

दोस्तों ये युद्ध में 1999 में मई से जुलाई तक चला था और अंत में 26 जुलाई को भारतीय सेना को कामयाबी मिली। दोस्तों उस युद्ध में भारतीय सेना नायक वेद प्रकाश मलिक और पाकिस्तान सेना नायक परवेज़ मुशर्रफ थे। 
इसी कारण से 26 जुलाई को कारगिल दिवस के रूप में मनाया जाता है। इस दिन हम सभी चीजो को भुलाकर उन सभी शहीदों को याद करते है जो हमारी वतन के लिए हमारी धरती के लिए न जाने कितनी वीर बहादुर हँसते हँसते शहीद हो गए। न जाने कितनी सैनिकों ने इस युद्ध में अपनी माँ बाप परिवार को छोड़कर चला गया होगा। इस दिन हमारी सैनिकों को बड़ी कामयाबी मिली थी।
इस दिन हम समर्पित करते है अपने आप को ऐसे सैनिकों के लिए जिन्होंने पूरी हिम्मत से साथ बहादुरी के साथ वीरता के साथ देश के मिटने न दिया चाहे उनकी जान क्यू न चली जाए। 
दोस्तों इस कारगिल दिवस में हमारी सुपर नेटवर्क टीम और हमारी सुपर नेटवर्क फॉलोवर की तरफ से उन शहीदों को नमन करते है। जय हिंद जय भारत

Post a Comment

0 Comments